रहिमन पानी राखिए बिन पानी सब सून में अलंकार एवं व्याख्या

दोहा:- रहिमन पानी राखिये , बिन पानी सब सून। पानी गये न ऊबरे, मोती, मानुष, चून॥ व्याख्या:- इस दोहे में पानी शब्द का तीन बार प्रयोग किया गया है और इसके तीन अर्थ निकलते हैं। यहां पर पानी का पहला अर्थ मनुष्य से जोड़कर किया गया है। रहीम कहना चाहते हैं कि मनुष्य को पानी …

Read more